हरिद्वार में तैयार हुई बड़े आंदोलन की रूपरेखा

कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन को लेकर चढ़ाई बाहें

हरिद्वार। पुरानी पेंशन बहाली राष्ट्रीय आंदोलन जनपद हरिद्वार इकाई के तत्वावधान में एक कार्यक्रम का आयोजन राजपूत धर्मशाला कनखल में किया गया। इस दौरान सभी उपस्थितों ने एक आवाज में पुरानी पेंशन बहाली के लिए संघर्ष का बिगुल बजाया। इस अवसर पर जिला कार्यकारिणी का विस्तार किया गया।


पुरानी पेंशन बहाली राष्ट्रीय आंदोलन की जनपद इकाई के इस कार्यक्रम को बतौर मुख्य अथिति संबोधित करते हुए प्रांतीय प्रभारी रघुवीर बिष्ट ने कहा कि नई पेंशन योजना एक छलावा है। यह सिर्फ कर्मचारियों को मूर्ख बनाने का प्रयास है। उन्होंने कहा कि सभी साथी एकजुट हों तथा पुरानी पेंशन बहाली के लिए संघर्ष करें। अपने संबोधन में प्रांतीय महामंत्री मुकेश रतूड़ी ने कहा कि पेंशन के इस आंदोलन को व्यापक समर्थन मिल रहा है। उन्होंने कहा कि पेंशन बहाली के लिए अंतिम सांस तक संघर्ष जारी रहेगा। अपने संबोधन में माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष राजेश सैनी एवं महामंत्री जितेंद्र पुंडीर ने हर संभव मुहिम को समर्थन का आश्वासन दिया। प्रदेश सह प्रभारी प्रदीप त्यागी ने कहा कि पेंशन आंदोलन को सफल बनाने के लिए सभी कर्मचारी अपने मूल संगठन से समन्वय बनाकर रखें। जनपद हरिद्वार में पेंशन आंदोलन को खड़ा करने वाले जिला प्रभारी रोहित शर्मा ने कहा कि प्रत्येक पेंशन विहीन साथी की एक ही मांग होनी चाहिए पुरानी पेंशन बहाली। उन्होंने कहा कि सरकार सुनियोजित तरीके से षड्यंत्र रचकर हमे पेंशन नही देना चाहती। उन्होंने कहा कि हम अपना हक लेकर रहेंगे। शिक्षक विजय सक्सेना एवं सोशल मीडिया प्रभारी अविनाश गौड़ ने नई पेंशन योजना की तकनीकी खामियों को उपस्थितों के सामने रखा। उन्होंने कहा कि सरकार ने कर्मचारियों का पैसा बाजार में लगा दिया है जिसकी जवाबदेही वह खुद नही लेना चाहती। इस अवसर पर जिला कार्यकारिणी का विस्तार किया गया तथा 30 लोगों को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई। बहादराबाद ब्लॉक में नरेंद्र मैठाणी संयोजक एवं अजय यादव सहसंयोजक चुने गए। अन्य ब्लॉकों में भी शीघ्र गठन किया जाएगा। शिवानी सैनी को जिला कार्यकारिणी में महिला उपाध्यक्ष का पद दिया गया। जनपदीय संयुक्त सचिव की जिम्मेदारी धर्मेंद्र को दी गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए संयोजक जितेंद्र सिंह ने कहा कि जल्द ही जनपद हरिद्वार में प्रस्तावित आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जाएगी। उन्होंने कहा कि कुंभनगरी हरिद्वार से निकली आंदोलन की आग को अब ठंडा नही होने देना है। कार्यक्रम का संचालन करते हुए सह संयोजक अजय चौहान ने सभी का आभार जताया। इस अवसर पर डॉ. शिवा अग्रवाल, बलवंत सिंह पंवार, हर्षवर्धन कांडपाल, अजय यादव, मनोज चौहान, विपुल शर्मा, अमरपाल, बीना मेहता, नरेंद्र मैठाणी, रेशम सिंह, शरद भारद्वाज, करुण आहूजा, राजीव चौहान, शिव कुमार दुबे, राजीव दुबे, अम्बरीष चौहान, अतुल यादव, सुंदरपाल सहित विभिन्न लोग उपस्थित रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *