पुरानी पेंशन बहाली को लेकर होगा अंतिम सांस तक संघर्ष

हरिद्वार। राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली मंच की एक बैठक का आयोजन राजपूत धर्मशाला कनखल में किया गया। बैठक में जिला कार्यकारिणी के विस्तार एवं ब्लॉक कार्यकारिणी के गठन को लेकर चर्चा हुई। सभी पदाधिकारियों ने संकल्प लिया कि पुरानी पेंशन के लिए संघर्ष जारी रहेगा।


राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली मंच की जिला कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते हुए मंच के जिला संयोजक जितेंद्र ने कहा कि वर्ष 2004 के बाद नियुक्त कर्मचारियों को पुरानी पेंशन से वंचित रखने का जो षड्यंत्र सरकारों ने रचा है उसके खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी। सह संयोजक अजय चौहान ने कहा कि नई पेंशन योजना एक छलावा है। कर्मचारियों के मेहनत की कमाई को बाजार में निवेश किया गया है जिसका कुछ अता पता नही है। प्रचार मंत्री हर्षवर्धन कांडपाल ने कहा कि जनपद हरिद्वार में समस्त विभागों के पेंशन विहीन साथियों को एक मंच पर लाकर अपने अधिकारों की लड़ाई को तीव्र किया जाएगा। उन्होंने कहा कि एक व्यवस्थित तरीके से कर्मचारियों का शोषण इस माध्यम से किया जा रहा है। नई पेंशन योजना किसी भी तरह से कर्मचारियों के हित में नही है। पुरानी पेंशन को ही बहाल किया जाना चाहिए। जिला प्रवक्ता डॉ. शिवा अग्रवाल ने कहा कि हमारी एक ही मांग पुरानी पेंशन की बहाली है। पेंशन के इस आंदोलन को धार देने के लिए अब विभागों-विभागों एवं ब्लॉक स्तर तक सभी पेंशन विहीन साथियों को एकत्र किया जाएगा। इस अवसर पर विपुल शर्मा, राजीव चौहान, अमन सैनी, मुक़ाशी रघुवंशी आदि लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *