टांटवाला हाईस्कूल के प्रधानाचार्य को दी शानदार विदाई

हरिद्वार। 37 वर्ष की दीर्घ, बेदाग एवं समर्पित सेवा उपरांत सेवानिवृत्त होने वाले राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय टांटवाला के प्रधानाचार्य सियाराम मौर्य को आज भावभीनी विदाई दी गई।


राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय टांटवाला में आयोजित विदाई समारोह की अध्यक्षता करते हुए प्रभारी प्रधानाचार्य देवेंद्र कुशवाह ने कहा कि श्री मौर्य जी ने इस गांव एवं विद्यालय की अपनी नोकरी से भी बढ़कर सेवा की है। उन्होंने कहा कि सियाराम मौर्य के कुशल नेतृत्व में विद्यालय ने नए मुकाम को स्पर्श किया है। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य सियाराम मौर्य ने कहा कि 37 साल की सेवा में उन्होंने अति दुर्गम पहाड़ी जिलों सहित कई जगह काम किया। उन्होंने कहा कि शिक्षक की सफलता उनके शिष्यों की सफलता में जुड़ी है। उन्होंने अपनी सेवा की 37 वर्ष की यात्रा के कई अनुभव साझा किए। श्री मौर्य ने कहा कि हर शिक्षक को विद्यालय ओर बच्चों के विकास के बारे में सोचना चाहिए। उन्होने कहा कि उनका यही ध्येय रहा कि आसन शुद्ध हो, आसन शुद्ध होगा तो अच्छे विचार आएंगे इसी के साथ विनम्रता सफलता की कुंजी है। अपने संबोधन में शिक्षक मनील दत्त जोशी ने टांटवाला से पूर्व श्री मौर्य जी के साथ झाझल विद्यालय में बिताए अनुभवों को साझा किया। उन्होंने कहा कि वह चलती फिरती पाठशाला हैं तथा उनके साथ बैठने मात्र से ही ऊर्जा का संचार होता है। शिक्षक रवि कुमार गोस्वामी ने कहा कि श्री मौर्य जी का व्यक्तित्व अत्यंत प्रेरणादायी है। उन्होंने उनके साथ किये कार्य के अनुभवों को साझा किया। शिक्षक शिवा अग्रवाल ने बच्चों का आह्वान करते हुए कहा कि वह मौर्य जी जैसे व्यक्तित्व से प्रेरणा लें। दुनिया मे बहुत नकारात्मकता है परंतु जरूरत सकारात्मकता के साथ आगे बढ़ने की है। श्री अग्रवाल ने टांटवाला में उनके कार्यकाल की मुक्त कंठ से प्रशंसा की। छात्र अंजली ओर राजवीर ने कक्षा में उनके द्वारा अध्यापन के दौरान के अनुभवों को साझा किया। कार्यक्रम के दौरान सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य को शॉल एवं माल्यार्पण कर विदाई दी गई। कार्यक्रम का संचालन हरदेव सिंह बिष्ट ने किया। इस अवसर पर नरेंद्र सिंह कलूड़ा,सुरेन्द्र कुमार दीपक, नम्रता कश्यप, महिपाल सिंह सहित सभी लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *