डीएलएड प्रशिक्षुओं ने बनाया अनूठा गतिविधि कक्ष, लोकार्पण एवं संवाद कार्यक्रम आयोजित

हरिद्वार। राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय संस्थान के तत्वावधान में इन सर्विस टीचर्स के द्विवर्षीय डिप्लोमा इन लर्निंग एजुकेशन ( डीएलएड ) पाठ्क्रम की 15 दिवसीय पीसीपी कक्षा के अंतिम दिवस पर आज भगतनपुर हाइस्कूल स्थित केंद्र पर ” संवाद एवं गतिविधि कक्ष का लोकार्पण” कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर प्रतिभागियों ने चार्ट ओर मॉडल के जरिए उत्कृष्ठ टीएलएम युक्त गतिविधि कक्ष तैयार किया जिसका उपयोग इस विद्यालय के बच्चे करेंगे।

 

इस अवसर पर आयोजित संवाद कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए खंड शिक्षा अधिकारी बहादराबाद अजय चौधरी ने कहा कि शिक्षक के व्यक्तित्व का बच्चों के ऊपर गहरा प्रभाव पड़ता है। उन्होंने कहा कि शिक्षक का बच्चों से लगाव जरूरी है जिससे बच्चे अपने शिक्षक से नजदीक रहें यह निश्चित रूप से सिखाने में सार्थक सिद्ध होगा। उन्होंने इस केंद्र पर उपस्थित प्रतिभागियों से संवाद किया था कक्षा कक्ष में अध्यापन से संबंधित जरूरी जानकारी दी। प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए केंद्र समन्वयक एवं राजकीय हाई स्कूल के प्रधानाचार्य एवं कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे नरेंद्र शर्मा ने कहा कि आज के समय मे तनाव बहुत बढ़ रहा है। कक्षा में बच्चों की एकाग्रता बढ़े तथा शिक्षक भी चेहरे पर मुस्कुराहट लेकर जाए यह जरूरी है। कक्षा का माहौल खुशनुमा होगा तो अधिगम भी अच्छा होगा। इस अवसर सन्दर्भदाता डॉ. शिवा अग्रवाल ने कहा कि शिक्षक तभी सफल है बच्चे बेहतर अधिगम करें। उन्होंने कहा कि शिक्षकों को सिलेबस से बाहर जाकर सोचना चाहिए तथा वैल्यू एजुकेशन पर काम करना चाहिए। हमारा काम सिर्फ पाठ्यक्रम पूरा करना नही बल्कि उससे कहीं आगे का है। इससे पूर्व संवाद कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथि द्वारा दीप प्रज्जवलन के साथ हुआ। इस दौरान सरस्वती शिशु मंदिर मायापुर के प्रतिभागियों ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। एम. डी. पब्लिक स्कूल के प्रतिभागियों ने भजन प्रस्तुति से मन मोहा। वहीं सरस्वती एवं सेक्रेड हार्ट स्कूल के प्रतिभागियों ने स्वागत गान प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का विशेष आकर्षण संदेश कुमार द्वारा प्रस्तुत कविता संघर्ष हूँ, पूजा गुप्ता द्वारा बेटी बचाओ पर कविता एवं दीक्षा राइजिंग पब्लिक स्कूल द्वारा शिक्षा के महत्व पर प्रस्तुत नाटक रहा। इस दौरान सन्दर्भदाता रवि कुमार गोस्वामी ने भी अपनी प्रस्तुति दी। संवाद कार्यक्रम के साथ एक अनूठा कार्य डीएलएड प्रतिभागियों द्वारा किया गया। इस अवसर पर समस्त प्रतिभागियों द्वारा चार्ट एवं मॉडल्स के जरिये एक गतिविधि कक्ष तैयार किया गया जिसका रिबन काटकर खंड शिक्षा अधिकारी अजय चौधरी द्वारा लोकार्पण किया गया। इस कक्ष ने सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया। इस कक्ष में कक्षा 6 से 10 तक के छात्रों के लिए मॉडल्स बनाये गए। जिसमे कृषि, ग्रामीण परिवेश, स्वच्छता, योग प्राणायाम, जल चक्र एवं अन्य जानकारी प्रदत मॉडल चार्ट आकर्षण का केंद्र रहे। खंड शिक्षा अधिकारी अजय चौधरी ने इन सब मॉडल्स चार्ट का अवलोकन किया तथा प्रतिभागियों से इन पर संवाद किया। कार्यक्रम का संचालन आशा विश्वकर्मा एवं पुनीता राव ने किया। इस अवसर पर सदर्भदाता शरद भारद्वाज आदि ने अतिथियों का माल्यार्पण कर स्वागत किया। संदीप कुमार द्वारा धन्यवाद ज्ञापित किया गया। कार्यक्रम में सभी प्रतिभागी उपस्थित रहे इस प्रकार डीएलएड प्रथम वर्ष की 15 दिवसीय पीसीपी काक्षाओं का समापन हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *